Beliefs

कभी भूलकर भी ना करें दिवाली पर ये गलतियाँ | Don't do these things on this auspicious Diwali



आप और हम दिवाली का ये त्यौहार न जाने कितने वर्षो से हँसी-ख़ुशी मनाते आ रहे हैं पर हममे से हर किसी पर माँ लक्ष्मी सामान रूप से कभी प्रसन्न नहीं रहती | कहीं ना कहीं हम जाने अनजाने में कुछ न कुछ ऐसा कर देते है जो हमें दिवाली जैसे पवित्र दिन नहीं करना चाहिए | आइये मिलकर जाने उन सारे कृत्यों को जो हमें दिवाली के दिन भूल कर भी नहीं करना चाहिए |




1. दिवाली के दिन कभी भी अपने किसी दोस्त, रिश्तेदार अथवा हितैषी को किसी चमड़े का सामान या काँटा, चम्मच और चुरी उपहार स्वरुप ना दें | उन्हें अगर आप कुछ भेंट देना चाहते हैं तो इन सामान के स्थान पर मिठाइयाँ भेंट करें |





2. दिवाली के दिन कभी भी जुआ पैसों के लिए ना खेले | आप सिर्फ अपने मनोरंजन के लिए इसे खेल सकते हैं |



3. दिवाली के दिन मदिरापान और अशाकाहरी भोजन से बचे | ऐसा खान पान विवेक का नाश करता है और घर में क्लेश की वृद्धि करता है |



4. पूजन स्थल पर प्रज्वलित दिए को रात भर बुझने ना दें | आप ऐसी प्रणाली बना कर उस दिए की देख रेख करें की वो रात के बीच में कभी भी बुझे नहीं | बीच-बीच में आवश्यतानुसार घी दिए में डालते रहें |



5. मोमबत्ती का कम से कम इस्तेमाल करें | इसकी जगह दिए को प्रयोग में लायें |



6. भगवान् गणेश की पूजा हेतु सिर्फ वही मूर्ति खरीदें जिसमे भगवान् गणेश किसी आसन पर विराजमान हों और उनकी सूंड दाहिने तरफ मुड़ी हो |



7. लक्ष्मी पूजन के दौरान या उसके तुरंत बाद ही पटाखे ना जालाये |



8. माँ लक्ष्मी की पूजा के दौरान तली ना बजाएं, हल्की घंटी का प्रयोग किया जा सकता है | ऐसी मान्यता है की माँ लक्ष्मी को मधुर संगीत पसंद है वो कर्कश और ऊँची ध्वनि से क्रुद्ध हो उठती हैं |



9. माँ लक्ष्मी की मूर्ति को कभी भी अकेले ना रखे ये बहुत ही बड़ा अपशकुन माना जाता है क्योंकि माँ लक्ष्मी कभी भी भगवान विष्णु के बगैर नहीं रहती |




About Pawan Upadhyaya

MangalMurti.in. Powered by Blogger.