Beliefs

याद रखे जीवन के मूल सिद्धान्त । Teaching of Guru Nanak Dev in Hindi



भारतीय संस्कृति में गुरु का महत्व प्राचीन काल से चलता आ रहा है । कबीर जी ने भी कहा कि गुरु बिन ज्ञान नही । हम सब अपने जीवन में किसी ना किसी को गुरु बनाते है और गुरु ज्ञान लेते है । ऐसे ही हमारे बीच एक गुरु हुए है जिनका नाम है गुरु नानक देव (Guru Nanak Dev) । गुरु नानक देव को सिख धर्म के सबसे बड़े गुरु और संस्थापक माना जाता है ।

कब मनाया जाता है गुरु नानक देव का जन्मोत्सव । When Celebrate Guru Nanak Dev Birthday

कार्तिक पूर्णिमा के दिन ही सिख धर्मगुरु नानक देव जी का जन्मोत्सव मनाया जाता है । सभी सिख भाई लोग इस दिन को बहुत ही धूम धाम से मानते है । गुरु  नानक देव जी का जन्म १५ अप्रैल १४६९ को हुआ था लेकिन सिख धर्म के अनुयायी कार्तिक मास की पुर्णिमा को गुरु नानक देव का जन्म उत्सव मनाते है । इस वर्ष १४ नवम्बर २०१६ को कार्तिक पुर्णिमा वाले दिन गुरु नानक जयंती मनाई जायगी । 

Guru Nanak Dev, Teaching of Guru Dev, Nanak dev

गुरु नानक देव के अनमोल वचन जो आपके जीवन को बदल देंगे 

  • भगवान का नाम लो, भजन करो, भगवान की सेवा करो और उनके सेवक बन जाओ । 
  • मौत को कभी भी बुरा मत कहो जबकि हम जानते है की कैसे मरा जाता है । 
  • कभी भी किसी से तर्क वितर्क मत करो । 
  • कभी भी किसी व्यक्ति को भ्रम में नहीं रखना चाहिए, बिना गुरु के कोई भी आगे नही बढ़ सकता । 
  • भगवान एक है , जबकि उसके कई अलग अलग रूप है। 
  • कभी भी किसी का हक नही छीनना चाहिए । 
  • किसी की मदद करने के लिए कभी पीछे नही हटना चाहिए । 
  • संसार को जीतने से पहले खुद के विकारो पर विजय पाना चाहिए । 
  • मनुष्य को कभी भी अहंकार नहीं करना चाहिए । हमेशा विनम रहना चाहिए । 
  • निष्ठा भाव से से महनत करके भगवान की उपासना करनी चाहिए ।  
  • कभी भी निर्दोष जीव और जन्तु को सताना नहीं चाहिए । 
  • ईमानदारी से कमाना चाहिए और गरीब को दान करना चाहिए । 


और जाने :



About Puneet Tayal

Puneet Tayal is a editor of mangalmurti.in. I am a Software Engineer by Professional and a Blogger by Passion. I want to creating new things always and love to visit new places.
MangalMurti.in. Powered by Blogger.