facts

क्या आपको पता है की आपकी राशी के अनुसार आपके ईष्ट देव कौन हैं ? | Who is your devotee god according to your Sun sign ?



ईष्ट देव की नियमित पूजा अर्चना करने से वो अपने भक्त पर प्रसन्न होते हैं | पर हममे से ज्यादातर लोगों को ये पता ही नहीं होता की हमारा असल में ईष्ट देव है कौन | तो आइये आज के इस विशेषांक में हम आपको बताते है आपके राशी के अनुसार आपके ईष्ट देव के बारे में |

मेष : 


मेष राशि का मालिक मंगल है | इसलिए अपने मंगल ग्रह को मजबूत करने के लिए मेष राशि वालों को भगवान शिव की आराधना करनी चाहिए |

वृष : 


वृष राशि का गृह शुक्र है इसलिए वृष राशि वालों को लक्ष्मी की पूजा करनी चाहिए |

मिथुन : 


मिथुन राशि का मालिक ग्रह बुध है | बुध के देवता ‘श्रीमननारायण’हैं | इसलिए बुध राशि वालों को अच्छे भाग्य के लिए भगवान ‘श्रीमननारायण’ की आराधना करनी चाहिए |

कर्क : 


कर्क राशि का मालिक ग्रह चंद्रमा है | देवी गौरी चंद्रमा की देवी हैं | गौरी शांति और दया की देवी हैं, इसलिए यदि आपकी राशि कर्क है, तो आपको अपनी इच्छाओं की पूर्ति के लिए देवी गौरी की पूजा करनी चाहिए |

सिंह : 


सिंह राशि का मालिक ग्रह सूर्य है और इस ग्रह के मालिक देवता भगवान शिव हैं | भगवान शिव को प्रसन्न करना आसान है, अत: सिंह राशि वाले अपने भजनों और पूजा से भगवान शिव को रिझाएं |

कन्या : 


कन्या राशि का ग्रह बुध है | विष्णु के अवतार भगवान ‘श्रीमननारायण' बुध ग्रह के मालिक हैं, इसलिए कन्या राशि वालों को अच्छे भाग्य के लिए भगवान ‘श्रीमननारायण' की पूजा करनी चाहिए |

तुला : 


तुला राशि का मालिक शुक्र ग्रह है और शुक्र ग्रह की स्वामी देवी लक्ष्मी हैं | इसलिए आप देवी लक्ष्मी की आराधना करें, इससे सौभाग्य और धन-धान्य की
प्राप्ति होगी |

वृश्चिक : 


वृश्चिक राशि का मालिक ग्रह भी मंगल है | इसलिए वृश्चिक राशि वालों को अपना मंगल मजबूत करने के लिए भगवान शिव की पूजा करनी चाहिए |

धनु : 


धनु राशि का स्वामी वृहस्पति ग्रह है | वृहस्पति के स्वामी ‘श्री दक्षिणमूर्ती' हैं जो कि भगवान शिव के अवतार हैं, ये ज्ञान और बुद्धि के देवता हैं | इसलिए इनका प्रभाव प्राप्त करने के लिए धनु राशि वालों को ‘श्री दक्षिणमूर्ती' की पूजा-अर्चना करनी चाहिए |

मकर : 


इस राशि का स्वामी मंगल है | इसलिए मकर राशि वालों को भी सुख-समृद्धि के लिए भगवान शिव की पूजा करनी चाहिए |

कुंभ : 


कुंभ राशि का स्वामी भी मंगल है | भगवान शिव मंगल के मालिक हैं, इसलिए कुंभ राशि वालों को पवित्र मन से भगवान शिव की आराधना करनी चाहिए |

मीन : 


धनु राशि का मालिक ग्रह वृहस्पति है | वृहस्पति के स्वामी ‘श्री दक्षिणमूर्ती' हैं, इसलिए मीन राशि वालों को ‘श्री दक्षिणमूर्ती' की पूजा अर्चना करनी चाहिए |



About Pawan Upadhyaya

MangalMurti.in. Powered by Blogger.