facts

अगर शाम को करोगे ये 5 काम, तो रूठ जाएंगी माँ लक्ष्मी | 5 Don'ts in the evening to avoid anger of Maa Lakshmi



*यह आर्टिकल राखी सोनी द्वारा लिखा गया है। 

कभी-कभी लाख कोशिश करने के बाद भी घर में नकारात्मकता का माहौल बना रहता है। पैसों की तंगी बनी रहती है। इसके साथ ही घर की सुख-शांति में भी कमी आती है। दरअसल हम अपने जीवन में जाने-अनजाने में ऐसी गलतियां कर बैठते हैं, जिसका प्रभाव हमारी पूरी जिन्दगी पर पड़ता हैं। 


इस वजह से हमें हर जगह असफलता का मुंह देखना पड़ता है। इतना ही नहीं, घर का हर व्यक्ति बीमारी और अस्वस्थ भी नजर आता हैं। हमारे हिन्दी ग्रंथो के अनुसार हमें शाम को कुछ कामों को नहीं करना चाहिए। इन कामों को करने से न सिर्फ घर में पैसों की किल्लत होती है बल्कि सुख-शांति भी भंग होती है। आइए डालें एक नजर उन कामों पर। 

1. शाम को सोना है गलत :


बदलती लाइफ स्टाइल की वजह से लोगों ने अपनी दिनचर्या को काफी प्रभावित किया। इस वजह से न तो सोने का टाइम फिक्स होता है और न ही उठने का। कुछ लोग दिन की जगह शाम को सो जाते हैं, जबकि ऐसा करना गलत है। ऐसा करने से जीवन में आलस्य बढ़ता है और व्यक्ति कई तरह के रोगों की चपेट में भी आता है। मां लक्ष्मी भी नाराज होती है। निरोगी काया और खुशहाल जिन्दगी के लिए व्यक्ति को शाम के समय सोना नहीं चाहिए। 

2. तुलसी का पत्ता न तोड़े :


संध्याकालीन हर व्यक्ति को अपने घर में पूजा-पाठ करनी चाहिए। इससे घर में पॉजिटिव एनर्जी आती है, खासकर तुलसी पर घी का दीपक जरूर जलाना चाहिए, लेकिन शाम को तुलसी को छूना नहीं चाहिए न इसकी पत्ती तोडऩी चाहिए और न ही तुलसी पर जल चढ़ाना चाहिए।  ऐसे करने से घर में सुख-समृद्धि की कमी आती है। 

3. ना करें साफ-सफाई :


शास्त्रों के अनुसार साफ-सफाई का भी एक निश्चित समय होता है। शाम का समय पूजा पाठ का होता है। इसलिए शाम के समय झाडू और सफाई नहीं करनी चहिए।  शाम के समय घर का कूड़ा बाहर नहीं फेंकना चाहिए। ऐसा करने से आपके घर की सकारात्मक ऊर्जा बाहर चली जाती हैं और घर में दरिद्रता का निवास होता है। इसलिए शाम होने से पहले घर को साफ कर लेना चाहिए। अगर शाम को किसी कारण वश झाडू लगानी भी पड़े, तो कचरा घर के बाहर न फेंके।

4. न करें बुराई और गुस्सा :


कुछ लोगों की आदत होती है कि वे मौका पाते ही लोगों की बुराइयां करने लगते हैं। शाम के समय ही नहीं बल्कि किसी भी समय लोगों को बुराई नहीं करनी चाहिए। इससे भी घर में नकारात्मक ऊर्जा आती है। इसके साथ ही शाम के समय गुस्सा नहीं करना चाहिए। ऐसा कहा जाता है कि शाम के समय माता लक्ष्मी भ्रमण पर निकलती है। इसलिए इस समय जिस घर में अन्य व्यक्ति की बुराई और गुस्सा किया जाता है, वहां मां लक्ष्मी नहीं आती है। 

5. इन बातों पर भी ध्यान दें :


शाम के समय खाना नही खाना चाहिए ,क्योंकि इससे पेट संबंधित कई रोग हो सकते हैं। संध्याकालीन पढऩा नहीं चाहिए, इससे विद्या का अपमान होता है। सुबह या रात को ही पढ़ाई करनी चाहिए। शाम के समय पति-पत्नी को आपस में संबंध नहीं बनाए चाहिए। शाम का माहौल पवित्र होता है। संबंध बनाने से शरीर की पवित्रता खत्म हो जाती है।



About Pawan Upadhyaya

MangalMurti.in. Powered by Blogger.