vrat

तो हो जाओ तैयार क्योंकि 28 अप्रैल को है अक्षय तृतीया, अब ये मत कहना की पहले नहीं बताया | Akshay Tritiya on 28 April



*यह आर्टिकल राखी सोनी द्वारा लिखा गया है। 

अक्षय तृतीया पर करें ये कार्य, मिलेगा पुण्य और धन लाभ :

हमारे शास्त्रों में अक्षय तृतीया तिथि का विशेष महत्व बताया गया है। कहते हैं इस दिन किए गए दान का व्यक्ति को विशेष लाभ प्राप्त होता है। इस दिन किया गया हर कार्य शुभ ही माना जाता है। भगवान श्रीकृष्ण ने कहा है कि अक्षय तृतीया परम पुण्यमयी तिथि है। इस दिन दोपहर से पूर्व स्नान, जप, तप, होम, स्वाध्याय, पितृ-तर्पण तथा दान आदि करने वाला महाभाग अक्षय पुण्यफल का भागी होता है।


इस बार अक्षय तृतीया २८ अप्रेल को मनाई जाएगी। अगर आप भी इस दिन का लाभ उठाना चाहते हैं तो इन कार्यों को जरूर करें।

शिव-पार्वती की करें पूजा-अर्चना :


अगर आपकी वैवाहिक जिन्दगी में काफी परेशानी चल रही है तो इस दिन शिव-पार्वती की पूजा-अर्चना जरूर करें। तृतीया मां गौरी की तिथि होती है। इसलिए जो भक्त इस दिन मां गौरी की पूजा करते हैं, उनके वैवाहिक जीवन सुखी और समृद्धि से भरा रहता है। उनके जीवन में से सारे दुखों का अंत होता है।

दान-पुण्य का विशेष महत्व :


वैसे तो व्यक्ति को पूरे साल ही दान पुण्य करना चाहिए, लेकिन इस दिन किया गया दान-पुण्य का लाभ व्यक्ति को कई गुणा मिलता है। इसलिए इस दिन गाय, भूमि, तिल, सोना, घी, वस्त्र, धान्य, गुड़, चांदी, नमक, शहद, चावल, दूध, दही, जल आदि वस्तुएं दान करने का महत्व है। ऐसा कहा जाता है कि जो व्यक्ति इस दिन जिस भी वस्तु का दान करता है, वे सभी वस्तुएं उसे अगले जन्म में प्राप्त होती है।

पितृ लोगों की होगी कृपा :

अगर आप पितृदोष से प्रभावित है, जिस वजह से आपके सारे काम अधूरे रह जाते हैं तो इस दिन पितरों की कृपा पाने के लिए खरबूजा, कलश, फल, पंथा आदि का दान ब्राहण को करें। इससे भी पितर खुश होते हैं। इसके साथ ही परिवार के साथ इस दिन अक्षय तृतीया पर सुंदरकांड और दुर्गाशप्तसती के तृतीय चरित्र का पाठ करें। इससे घर में लक्ष्मी की कृपा बनी रहेगी।

ये कार्य भी जरूर करें :


  • अक्षय तृतीया के दिन ब्रह्म मुहूर्त में गंगा स्नान के बाद भगवान विष्णु की विधि विधान से पूजा अर्चना करनी चाहिए। 
  • अक्षय तृतीया के दिन सतू का सेवन जरूर करना चाहिए। इसके साथ ही नए वस्त्र और आभूषण भी धारण करने चाहिए। 
  • इस दिन सोने चांदी की चीजें जरूर खरीदनी चाहिए। इससे घर में बरकत होती है। 
  • अक्षय तृतीया के दिन पूजा घर में 11 कौडिय़ों को लाल कपड़े में बांधकर रखें। इसे मां लक्ष्मी की कृपा बनी रहती है।  इसके साथ ही एकाक्षी नारियल  का इस दिन घर में पूजा स्थान में स्थापित करना चाहिए। घर के किसी भी स्थान पर भगवान विष्णु की मूर्ति या फिर चित्र स्थापित करना चाहिए। भगवान विष्णु को फूलों की माला भी पहनाएं।
  • ब्राह्मण को इस दिन भोजन कराना कल्याणकारी होता है।
  •  सुबह जल्दी उठें और घर की साफ-सफाई अच्छे से करें।



About Pawan Upadhyaya

MangalMurti.in. Powered by Blogger.