facts

अगर कड़ी मेहनत भी नहीं दिला रही सफलता तो सच्चे मन से करो सिर्फ ये 4 काम | 4 methods to reconstruct your fortune



*यह आर्टिकल राखी सोनी द्वारा लिखा गया है। 


कभी-कभी हम काफी मेहनत करते हैं, लेकिन फिर भी पैसों की तंगी दूर नहीं होती है। लाख कोशिश करने के बावजूद घर में पैसों का आगमन नहीं होता है। अगर पैसा आ भी जाता है, तो वो कब खर्च हो जाता है। इसका भी पता नहीं चलता है। अगर बार-बार धन हानि की वजह से आप परेशान है तो ये छोटे-छोटे उपाय आपके लिए काम के साबित हो सकते हैं।

अगर लग गई है बुरी नजर :


कभी कभी नजर की वजह से भी घर में पैसों की तंगी होना शुरू हो जाती है। इसलिए रात को सोते समय सर के पास एक लोटे में दूध भरकर रखें। सुबह ये दूध बबूल की जड़ में चढ़ा दें। इससे घर में फिर से पैसा आना शुरू हो जाएगा। गणेश जी पूजा अर्चना करने से भी आर्थिक स्थिति मजबूत होती है। इसलिए हर दिन गणेशजी की पूजा करें। उन्हें दुर्वा चढ़ाए।  ऐसा करने से भी घर में बरकत होती है।

करें हनुमान चालीसा का पाठ :


किसी भी हनुमान मंदिर जाएं और अपने साथ नारियल लेकर जाएं। मंदिर में नारियल को अपने सिर पर सात बार वार लें। इसके बाद यह नारियल हनुमानजी के सामने फोड़ दें। इस उपाय से आपकी सभी बाधाएं दूर हो जाएंगी। शनिवार को हनुमानजी के मंदिर में 1 नारियल पर स्वस्तिक बनाएं और हनुमानजी को अर्पित करें। हनुमान चालीसा का पाठ करें।

चढ़ाए हल्दी की गांठ : 


ये एक छोटा सा और फायदेमंद उपाय है।सोमवार को शिवलिंग पर कच्चा दूध चढ़ाएं और इस उपाय से कुंडली के दोष दूर होंगे और धन की हानि रूकती है। गुरुवार के दिन शिवलिंग पर हल्दी की गांठ चढ़ाएं। इस उपाय से भाग्य की बाधाएं दूर होती है और धन लाभ होता है। इसके साथ ही शुक्रवार को महालक्ष्मी का दिन कहा जाता है। इस दिन मां वैभवलक्ष्मी की पूजा अर्चना करें। इस उपाय से महालक्ष्मी प्रसन्न होती हैं और पैसों की तंगी दूर होती है।

शिवपुराण का पाठ करें :

शिवपुराण का पाठ करने से भी पैसों की तंगी दूर होती है। इसके साथ ही इस पाठ में कई उपाय भी बताए गए, जिन्हें अपनाने से धन संबंधित सारी समस्याओं का निवारण होता है।  शिव जी की कृपा बनी रहे, इसके लिए रोज रात को शिवलिंग के समक्ष दीपक जलाना चाहिए। इसके पीछे एक कहानी भी है। प्राचीन काल में गुणनिधि नामक व्यक्ति बहुत गरीब था और वह भोजन की तलाश करते हुए शिव मंदिर पहुंच गया। मंदिर में अंधेरा बहुत था, इसलिए उसने शिवलिंग के समक्ष दीपक जला लिया।


रात्रि के समय भगवान शिव के समक्ष प्रकाश करने के फलस्वरूप से उस व्यक्ति को अगले जन्म में देवताओं के कोषाध्यक्ष कुबेर देव का पद प्राप्त हुआ। इसलिए रात्रि में नियमित रूप से शिवलिंग के समक्ष दीपक लगाना चाहिए। दीपक लगाते समय ओम नम. शिवाय  मंत्र का जप करना चाहिए। इसके अलावा हर दिन शिवजी को जल, दूध और चावल आदि सामग्री अर्पित करनी चाहिए। इससे भी घर में लक्ष्मी का वास होता है।



About Pawan Upadhyaya

MangalMurti.in. Powered by Blogger.