facts

जानिए रामायण से जुड़े कुछ रोचक बातें | Interesting facts about Ramayana



*यह आर्टिकल राखी सोनी द्वारा लिखा गया है। 

जानिए रामायण से जुड़े कुछ रोचक बातें :


हमारे पुराणों में रामायाण ग्रंथ का अपना विशिष्ट स्थान है। रामायाण, ऐसा ग्रंथ है, जो घर-घर में पढ़ा जाता है। श्रीराम, लक्ष्मण, माता सीता, हनुमान और रावण रामायण के कई ऐसे पात्र हैं, जिसकी जानकारी हर बच्चे को बचपन से होती है। वैसे भी वाल्मीकी ने रामायण ग्रंथ का बड़ा ही सुंदर वर्णन किया है। आज इस लेख के जरिए हम जानेंगे रामायण ग्रंथ के बारे में कई रोचक बातें। 

स्त्री बनेंगी विनाश का कारण :


ग्रंथों के अनुसार एक बार रावण अपने विमान से एक घने जंगल से गुजर रहा था। तब वहां वेदवती नाम की स्त्री भगवान विष्णु को पति रूप में पाने के लिए तप में लीन थी। रावन ने उसकी  तपस्या भंग की और साथ चलने के लिए जबरदस्ती करने लगा। इसलिए उस स्त्री ने रावण को श्राप दिया कि तेरी मृत्यु एक स्त्री की वजह से होगी और आत्मदाह कर लिया। अगले जन्म में उसी स्त्री ने माता सीता का रूप धारण किया। इसके साथ ही रावण ने एक बार स्वर्गलोग में अप्सरा रंभा पर बुरी नजर डाली। रंभा ने कहा कि वे उनकी भाई कुबेर के बेटे नलकुबेर की सेवा में जा रही है। लेकिन रावण नहीं माना और उसने रंभा के साथ बुरा व्यवहार किया। जब ये बात नलकुबेर को पता चली तो उन्होंने रावण को श्राप दिया कि जब भी वे किसी स्त्री को उसकी इच्छा के विरूद्ध स्पर्श करेगा, उसका सिर के टुकड़े-टुकड़े हो जाएंगे। इसलिए रावण ने सीता को हाथ तक नहीं लगाया।

इसलिए सीता माता को नहीं लगी भूख प्यास :


जब रावण सीता माता को हरकर अशोक वाटिका में छोड़ गए। तब ब्रहृा जी के कहने पर भगवान विष्णु सीता माता के लिए खीर लेकर आए। इस खीर के सेवन की वजह से माता सीता को चौदह वर्ष तक भूख प्यास नहीं लगी। 

नंदी ने दिया रावण को श्राप :


एक बार रावण भगवान शिव से मिलने के लिए कैलाश पर्वत गए। वहां उनकी मुलाकात नंदी से हुई। उन्होंने नंदी जी का खूब मजाक उड़ाया और बंदर मुख वाला बताया। इस बात से क्रोधित होकर नंदी ने रावण को श्राप दिया कि तेरा सर्वनाश बंदरों की वजह से होगा। 

कुछ खास बातें :


  1. रावण की सोने की लंका पहले उसके भाई कुबेर की थी। बाद में रावण ने उस लंका पर विजय प्राप्त कर अपना बना लिया। 
  2. समुद्र में पुल का निर्माण नल और नील वानरों ने किया था। दोनों  को श्राप मिला था कि वे जो भी चीज पानी में फेंकेंगे वे डूबेंगी नहीं। 
  3. अपने पिता की मृत्यु का आभास लक्ष्मण को पहले ही सपने में हो गया था। उन्होंने राजा दरशद को काले कपड़े में देखा था। 
  4. रावण की बहन शूर्पणखा के पति का वध रावण ने किया था। तब उसने रावण को श्राप दिया था कि मेरे कारण ही तेरा अंत होगा।



About Pawan Upadhyaya

MangalMurti.in. Powered by Blogger.